शब्दों की शक्ति: जो आपके जीवन को बदल दे | Power of words: That changes your life in hindi

हम जो सोचते हैं वही होता है।

हर पल हम अपने विचारों के माध्यम से अपनी वास्तविकता का निर्माण करते हैं। हमारा मन हमारी कल्पना से अधिक हमारे शरीर को अभिव्यक्त और प्रभावित करता है। विचार हमारे मस्तिष्क की इकाई हैं और हमारे काम का आधार भी। शब्द वास्तव में विचारों के घने रूप हैं, उनमें असीमित शक्ति होती है, खासकर जब वे पूरी एकाग्रता के साथ बोले जाते हैं।

भावनाओं की शक्ति से बोले गए शब्द हमें पूरे दिन प्रभावित कर सकते हैं

थकान का हल्का सा विचार भी हमारी सारी ऊर्जा नष्ट करने के लिए काफी है। मैं थक गया हूँ यह विचार मन में आकर इस थकान को और भी बढ़ा देता है। इसका विपरीत भी हो सकता है. अगर आप थकान महसूस कर रहे हैं तो अचानक किसी खास दोस्त का फोन आ जाए तो आपकी थकान दूर हो जाएगी और आप तरोताजा महसूस करेंगे। अगर आप अपनी नौकरानी को कुछ नुकसान करते हुए देखते हैं तो आप अपना आपा खो देते हैं, इसके बाद आप अचानक थकान महसूस करने लगेंगे।

अब आइए उन सुझावों की सूची पर नजर डालें जो हम अपने मन को देते रहते हैं:-

  • मुझसे यह नहीं हो सकता।
  • मैं अभागा हूं
  • यह मेरा व्यवसाय नहीं है।
  • मैं हमेशा गलत होता हूं।
  • अब मैं बूढ़ा हो गया हूं ।
इसे भी पढ़े  थायरॉइड का संतुलन- कुछ आहार के साथ उपचार |Thyroid ka santulan - kuch aahar ke sath upchaar

ऐसी भावनाएँ जैसे कि मैं स्वयं में विनाशकारी प्रभाव डालने की शक्ति नहीं रख सकता। हमारा दिमाग ऐसे विचारों को स्वीकार कर लेता है और हमारे ज्यादातर विचार नकारात्मक होते हैं। हमारा मन ऐसी दुनिया में जाकर उन चीजों को देखता है जो हम नहीं कर सकते और मन उसे स्वीकार कर व्यवहार में लाने लगता है।

हममें से अधिकांश के विचार एक जैसे होते हैं, हम उन्हें नकारात्मक छवियों की तरह ही कल्पना करते हैं, और समान स्वास्थ्य के साथ समान जीवन जीते हैं। आकर्षण के सर्वमान्य नियम के अनुसार एक ही चीज़ एक दूसरे को आकर्षित करती है। जो लोग हमेशा निराशा के बादलों से घिरे रहते हैं उनका जीवन भी ऐसे अनचाहे अनुभवों से भरा रहता है, इसके विपरीत सकारात्मक सोच वाले व्यक्ति के जीवन में अवसर और उपलब्धियाँ आती रहती हैं। ऐसा कहा जाता है कि 15 से 20 सेकंड तक मन में आने वाले विचार अपने जैसी ऊर्जा को आकर्षित करते हैं।

अपने विचार और शब्द चुनें

हममें से अधिकांश लोग यह नहीं जानते कि अपने सोचने का तरीका कैसे बदलें या यह विश्वास नहीं करते कि यह किया जा सकता है। हम अपने दिमाग के विचारों और तस्वीरों को उतनी ही तेजी से और आसानी से बदल सकते हैं जितनी आसानी से हम मोबाइल पर वीडियो देख सकते हैं।
नए विचार हमारे जीवन को बदल सकते हैं और अपने विचारों को अच्छे से परखकर हम उस शक्ति को अपने जीवन में अनुभव कर सकते हैं।
हमारे शब्द, विचार और कार्य गड़बड़ भी कर सकते हैं और मलहम भी लगा सकते हैं। यह हमें तय करना है कि हम अशांत रहना चाहते हैं या सही काम करके शांति का अनुभव करना चाहते हैं। ये फैसले भी हमारे मन में शब्दों के रूप में लिए जाते हैं और शब्द यहां विचार बनकर हमारी जिंदगी बदल सकते हैं। हम अपने आप से क्या बात करते हैं यह बहुत महत्वपूर्ण है। अपने विचारों और शब्दों को बदलकर हम अपना जीवन बदल सकते हैं।

Important Links

Join Our Whatsapp Group Join Whatsapp
इसे भी पढ़े  कोलेस्ट्रॉल क्या है, प्रकार, कोलेस्ट्रॉल से होने वाली बीमारियाँ एवं संतुलन के लिए कुछ उपाय | What is cholesterol, types, the role of cholesterol, diseases caused by their excess, and some remedies for balance

शब्दों द्वारा खुद को दिए गए शब्दों का भी है महत्व –

यह शब्द स्वयं को दिया गया था कि हम स्वयं में क्या देखना चाहते हैं। जब ये शब्द पूरी एकाग्रता के साथ बोले जाते हैं तो ये वैसे ही हमारे दिमाग तक पहुंचते हैं और हमें इस हद तक बदल सकते हैं जिस पर हमारा कोई नियंत्रण नहीं होता। ये तेरह शब्द हमारे जीवन में बदलाव लाते हैं। अगर आप खुद से कहें कि मैं हर दिन बेहतर और बेहतर होता जा रहा हूं। इस प्रकार बोलने से हमें सकारात्मक ऊर्जा प्राप्त होती है

सुझाव आवश्यक परिस्थितियाँ

  • सुझाव खुद में बदलाव लाने का होना चाहिए न कि सामने वाले को बदलने का।
  • हमें अपनी अक्षमता को दूर करने के लिए हमेशा सकारात्मक तरीकों के बारे में सोचना चाहिए।
  • नहीं कर सकते, ऐसे शब्दों का हिस्सा नहीं होना चाहिए।
  • हमें ऐसे विचार रखने चाहिए जो नकारात्मकता और नफरत से दूर हटकर खुद में आत्मविश्वास लाएं। पूरे विश्वास के साथ खुद से वादा करें और परिणाम की चिंता न करें।
  • किसी सुझाव को सही में बदलने का तरीका उस सुझाव को बार-बार दोहराना है।

समर्पण का भाव

जब हम केवल अपने स्तर पर खुद को बदलने का प्रयास करते हैं, तो हम स्वस्थ रहने और आगे बढ़ने की दिशा में प्रयास की शक्ति को सीमित कर देते हैं। जब हम इन प्रयासों को उस पवित्र शक्ति के साथ जोड़ते हैं जो हर जगह मौजूद है, तो इस तरह हमारा मार्ग प्रशस्त होता है आने वाली रुकावटों को कम करता है।

इसे भी पढ़े  ओमीक्रोन के लक्षण जो हैं डेल्टा वैरिएंट से अलग|Omicron ke lakshan jo hain delta variant se alag

दोस्तों इस पोस्ट को आप सभी के साथ शेयर करें ताकि हर कोई इस शक्ति का उपयोग करके अपने जीवन को बदल सके। आइये मिलते हैं अगली नई पोस्ट के साथ।

Frequently Asked Questions

प्रश्न 1 – शब्दों की असली ताकत क्या है?

उत्तर – शब्दों की वास्तविक शक्ति वास्तविकता को आकार देने, संबंध बनाने, कार्य शुरू करने और खुद को परिभाषित करने में निहित है। उन्हें बुद्धिमानी से चुनें, और अच्छे के लिए उनका उपयोग करें।

प्रश्न 2 – सबसे शक्तिशाली शब्द क्या है?

उत्तर – ओम  वर्ड सबसे ज्यादा शक्तिशाली शब्द हैं । इसके प्रयोग करने से आपके जीवन में बदलाव आएगा आप अच्छा महसूस करने लगेंगे । लेकिन संदर्भ और व्यक्तिगत अनुनाद के आधार पर, “प्रेम,” “स्वतंत्रता,” “आशा,” “सच्चाई,” और “परिवर्तन” सभी में प्रभाव की अपार संभावनाएं हैं। बुद्धिमानी से चुनें, शक्तिशाली ढंग से प्रयोग करें।

अन्य पढ़े – 

Leave a Comment

Important Links

Join Our Whatsapp Group Join Whatsapp