10 खाद्य पदार्थ जो दे माहवारी में आराम|10 Foods That Give Comfort During Menstruation in Hindi

10 खाद्य पदार्थ जो दे माहवारी में आराम (10 Foods That Give Comfort In Menstruation)

माहवारी, जिससे दुनिया की हर एक महिला अच्छे से परिचित है। माहवारी के पहले मन का बार बार बदलना, चिड़चिड़ापन, छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा होना और महवारी के दौरान असहनीय पेट का दर्द , भूख ना लगना, काम में मन ना लगना, थकावट महसूस होना, यह सभी चीजें एक स्त्री को सहनी पड़ती हैं। माहवारी के दौरान हमें खाने-पीने पर विशेष ध्यान देना चाहिए, ताकि हमारे शरीर में ऊर्जा बनी रहे, शरीर में खून की कमी ना हो और हमारा काम करने में मन भी लगे और हमें थकावट भी महसूस ना हो। आज हम खान-पान की चर्चा करेंगे जो माहवारी के समय हमें सेवन करना चाहिए।

1. केला –

केले में बहुत से पोषक तत्व मौजूद होते हैं। यह विटामिन बी 6, पोटैसियम, मैग्निसियम, कैल्सियम और फाइबर से परिपूर्ण रखता है। इसमें एंटि-ओक्सीडेंट्स भी मौजूद होते हैं। माहवारी के समय यह पाचन को भी अच्छा रखता है साथ ही पेट फूलने की समस्या से भी निजात दिलाता है। केले में पाये जाने वाले विटामिन्स माहवारी के दौरान हमारे मूड को अच्छा और हमें खुश रखने में सहायता करता है।

2. नींबू –

एक ग्लास पानी में नींबू का सेवन माहवारी के दौरान दर्द को कम करने में सहायक होता है, यह शरीर को हाइड्रेट रखता है और इसमें पाये जाने वाले एंटि-ओक्सीडेंट्स जैसे विटामिन सी भरपूर मात्रा में मौजूद होता है जो शरीर में उपस्थित हानिकारक तत्वों को बाहर करने का कम करता है। यह पाचन को भी सुचारु रूप से चलाता है। अक्सर कई महिलाओं को माहवारी के दौरान कब्ज या पाइल्स की समस्या होती है, क्योंकि कई बार पेट के निचले हिस्से में दर्द की वजह से भूख का आभास नहीं हो पाता और इंसान को यह पता नहीं चल पाता की उसे किनती भूख है कितना खाना है, जिसकी वजह से यह समस्या हो सकती है । इसलिए ऐसे समय में नींबू के जूस का सेवन अवश्य करें।

इसे भी पढ़े  हाई प्रोटीन डाइट का वैकल्पिक स्तोत्र - कोरोना से स्वस्थ होने में महत्वपूर्ण भागीदारी|High protein diet ka vaikalpik stotra-corona se swastha hone men mahatwapurn bhagidari

3.संतरा –

संतरा जो की विटामिन सी का एक अच्छा स्तोत्र है और साथ ही कैल्सियम भी इसमें पाया जाता है। यह माहवारी के पहले होने वाले कई लक्षणों जैसे पेट गड़ना, रुक- रुक के दर्द और हमारे मूड को खुश रखने में बहुत ही ज्यादा सहायक है। यह पेट में होने वाली ऐंठन को भी कम करता है। यह हमारे शरीर को जरूरी सभी पोषक तत्वों को प्रदान करने में सहायक है।

4. पानी –

माहवारी के दौरान महिलाओं में प्रोजेस्टेरोन और एस्ट्रोजन जैसे होर्मोंस की कमी हो जाती है, जिसकी वजह से हमारे शरीर में पानी की मात्रा की कमी हो जाती है और इसके चलते ही पेट फुला-फुला लगता है। इसकी वजह से पेट में ऐंठन भी होती है। पानी की मात्रा का संतुलन हमारे शरीर में माहवारी के समय हो या सामान्य समय, पानी की कमी शरीर में नहीं होनी चाहिए। पानी हमारे शरीर से विषाक्त तत्वों को बाहर करता है और शरीर को सुचारु रूप से कार्य करने में सहायता करता है। इसलिए लगभग 8 से 10 ग्लास पानी हमें हमेशा हर दिन हमें पीना चाहिए।

Important Links

Join Our Whatsapp Group Join Whatsapp

5.तरबूज –

माहवारी के दौरान पानी की कमी की वजह से ही पेट में ऐंठन महसूस होती है। गर्मियों के दिन में तरबूज शरीर में पानी की मात्रा को संतुलित रखने में बहुत ही सहायक है। यह रक्त प्रवाह को सही रखने और शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए काफी अच्छा है। आप इसके जूस का भी सेवन कर सकते हैं।

6.ब्रोकली –

ब्रोकली में विटामिन ए, बी, सी और ई भरपूर मात्रा में मौजूद होता है। माहवारी के समय रक्तस्त्राव की वजह से शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों की भी कमी हो जाती है। इसलिए ब्रोकली का सेवन एक बहुत अच्छा विकल्प हो सकता है। इसमें मैग्निसियम, पोटैसियम और कैल्सियम भी भरपूर मात्रा में होता है। यह माहवारी से पहले होने वाले लक्षणों को सही करने में सहायक है।

इसे भी पढ़े  ओट्स बनाने के तरीके एवं फायदे।Ways and benefits of making oats in HIndi

7.मछ्ली –

मछ्ली विटामिन ए का एक बहुत ही अच्छा स्तोत्र होता है। इसमें इसमें ओमेगा -थ्रि फैटी प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है। जो की रक्त की स्थिरता और होर्मोन्स की स्थिति को संतुलित बनाए रखता है। इसलिए मछ्ली का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। माहवारी के दौरान होने वाले दर्द की तीव्रता को कम करने में भी सहायक है।

8.हल्दी –

हल्दी को दूध के साथ पीने से दर्द कम होता है जो की लगभग हम सभी जानते है। और यह इसकी एंटि-इन्फ्लामेटरी गुण की वजह से होता है। हल्दी का सेवन शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसमें एंटि-वायरल और एंटि-बैक्टीरियल गुण भी मौजूद होता है।

9.डार्क चॉकलेट –

डार्क चॉकलेट में मैग्नीशियम की अधिकता होती है जिसकी वजह से माहवारी के समय ऐंठन को कम करता है और माँसपेशियों को आराम पहुँचाने का काम करता है।

10.ड्राइफ्रूट्स –

माहवारी के दौरान हमारे शरीर में बहुत से पोषक तत्वों की कमी हो जाती है, इसलिए ड्राइफ्रूट्स का सेवन हमें अवश्य करना चाहिए । ड्राइफ्रूट्स में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, विटामिन और अन्य पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

माहवारी के दौरान बहुत सी समस्याएँ महिलाओं को होती हैं, इसलिए खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए, ताकि शरीर में कमजोरी ना आए और रक्त की कमी भी ना हो।

अन्य पढ़े – 

गर्मियों के लिए कुछ जबर्दस्त पेय

ओट्स बनाने के तरीके एवं फायदे

सुगंधित तेलों का भाप के साथ उपयोग

Leave a Comment

Important Links

Join Our Whatsapp Group Join Whatsapp