थायरॉइड का संतुलन- कुछ आहार के साथ उपचार |Thyroid ka santulan – kuch aahar ke sath upchaar

थायरॉइड का संतुलन- कुछ आहार के साथ उपचार

दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में, जिनका सेवन हमारे थायरॉइड होर्मोन के संतुलन के साथ-साथ हमारे अन्य होर्मोन्स के संतुलन एवं हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune system) के लिए भी अच्छे साबित हो सकतें हैं। हमारे शरीर में किसी भी रसायन की अधिकता या कमी, हमारी बीमारी का कारण बन सकती है। हमारा खान-पान जितना अच्छा और संतुलित होगा उतना हम रोगों से दूर रहेंगे और हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होगी और रोगों से लड़ने में सक्षम होगी और हमें बीमारियों से बचाएगी। जैसा की मैंने अपने पहले पोस्ट में आप लोगों से थायरॉइड की बीमारी के बारे में चर्चा की थी और बताया था की Iodine की कमी या अधिकता से ये रोग हो सकता है, क्योंकि थायरॉइड हॉर्मोन्स के स्त्राव के लिए इसकी आवश्यकता होती है, तो यह सब हमें एक सही और संतुलित आहार से ही मिलता है। इसलिए खान-पान ऐसा रखें की बाहर से किसी तरह के खाद्य पूरक (Vitamin supplements) की जरूरत न पड़े। लेकिन अगर हम थायरॉइड से ग्रसित हैं तो हमें खुद के खान -पान पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। मैंने आपको पिछली पोस्ट में बताया था कि Thyroid की बीमारी में खाना कैसा हो, यहाँ मैं आपको कुछ विकल्प और बता रहीं हूँ जो हमारी इस बीमारी में एक औषधि की तरह भूमिका निभाते हैं।

इसे भी पढ़े  10 कारण जिनकी वजह से आपको सुबह ध्यान करना चाहिए | 10 reasons why you should meditate in the morning in hindi

चलिये अब मैं देर ना करते हुए बताती हूँ की कौन कौन खाद्य पदार्थ(Foods)थायरॉइड के संतुलन में हमारे लिए वरदान साबित हो सकते हैं-

1.अलसी (Flaxseed) –

आप Thyroid में अलसी का पाउडर कुनकुने पानी के साथ सेवन कर सकते हैं खाली पेट या फिर आप इसके पाउडर को दलिया या ओट्स (oats)में भी मिला कर खा सकते हैं, इसमें ओमेगा-3 Fatty acid भरपूर मात्रा में होता है, जो की Hyper और Hypothyroidism दोनों मे लाभदायक होता है। साथ ही साथ ये Thyroid gland में सूजन को भी कम करने मे सहायता करता है।

2.कॉड लिवर ऑइल (Cod-liver oil) –

Thyroid की बीमारी में हमें सभी प्रकार के विटामिन्स जैसे विटामिन A,B,C,D और कुछ मिनेरल्स salts (Mineral salts) जैसे जिंक, सेलेनियम, क्रोमियम और मैंगनीज की बहुत आवश्यकता होती है। Thyroid ग्रंथि को अधिकता में विटामिन A की आवश्यकता होती है जिसे हम cod-liver oil से ले सकते हैं या मछ्ली के सेवन से भी ले सकते हैं। इसके अलावा Shark liver oil भी विटामिन A एक अच्छा स्त्रोत है और इस oil में विटामिन D भी मौजूद होता है।

3.आँवला (Embilica officinalis)-

इसे Indian gooseberry के नाम से भी जाना जाता है।आँवला में प्रचुर मात्रा में विटामिन C,Eऔर विटामिन Aपाया जाता है जो आपके thyroid के लिए बहुत लाभदायक होता है इसे आप मुरब्बे के रूप मे सूखा कर उपयोग में ला सकते हैं।

4.खसखस (Poppy seeds)-

खसखस को हम पोस्तादाना के भी नाम से जानते हैं इसमे भी प्रचुर मात्रा में ओमेगा-6 fatty एसिड मौजूद होता है, साथ ही ये फाइबर और प्रोटीन का बहुत अच्छा स्तोत्र है। साथ ही इसमें विटामिन B1,B,मैंगनीज और कैल्सियम होता है जिसकी वजह Thyroid के लिए अच्छा माना जाता है।

Important Links

Join Our Whatsapp Group Join Whatsapp
इसे भी पढ़े  छत्तीसगढ़ में पायी जाने वाली कुछ भाजियाँ एवं उनके उपयोग | Chhattisgarh mai payi jane wali bhajiya evam unke upyog

5.अश्वगंधा (Ashwagandha)-

यह एक औषधिय गुणों वाला पौधा है, प्रायः इसकी जड़ उपयोग मे लायी जाती हैं। सही मात्रा में इसका सेवन करने पर यह थायरॉइड के लिए बहुत अच्छा साबित होता है। साथ ही यह हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत करता है। इसे पाउडर के रूप मे उपयोग कर सकते हैं।

6.बादाम (Almond) और कद्दू के बीज (Pumpkin seeds) –

बादाम में Omega-3 Fatty acid,विटामिन E,जिंक,कैल्सियम और मैग्निसियम पाया जाता है, साथ हीं दोनों में आयरन (Iron)और selenium भरपूर मात्रा में होता है जो thyroid के संतुलन के लिए बहुत अच्छा होता है। बादाम को अगर रात में भीगा कर उसे सुबह खाएंगे , तो यह और फायदेमंद होता है। कद्दू के बीज को आप हल्का भून के ऐसे ही खा सकते हैं, या अपनी सुविधानुसार आप इसका भी पाउडर पीस कर इसका सेवन कर सकते हैं।

7.Antioxidants Rich Foods –

इन सभी के अलावा आप कुछ ऐसी सब्जियाँ जैसे ब्रोकली, फूलगोभी, पालक अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं और कुछ ऐसे फल अंगूर,सेब,नींबू, संतरा, मौसमी का सेवन कर सकते हैं, जिनमें भरपूर मात्रा में एंटि-आक्सिडेंट तत्व (Antioxidants) मौजूद होते हैं, जो शरीर में बनने वाले हानिकारक तत्वों को शरीर से बाहर कर,होर्मोंस को संतुलित करने का काम करते हैं। इनके अलावा आप अदरक (Ginger), दालचीनी (Cinnamon bark),कालीमिर्च (Black pepper)और हल्दी (turmeric)का भी सेवन करें। इनमे भी एंटि-आक्सिडेंट तत्व मौजूद होते हैं और यह Thyroid के लिए अच्छे होते हैं।

8.Beansऔर दालें –

सेम के बीज़, राजमा, मूंग एवं मसूर दाल खाने में शामिल करें, इनमें विटामिन B1और मैग्निसियम पाया जाता है जो के Thyroid के लिए अच्छा माना जाता है।

इसे भी पढ़े  मोटापे के कारण, उनसे होने वाली बीमारियाँ एवं मोटापे को कम करने के कुछ उपाय | Motape ke karan,unse hone wali bimariyan evam motape ko kam karne ke kuch upay

9.Dairy Products –

आप पनीर, दूध और दही का भी सेवन करें वो भी सही समय पर।

अगर आप यह सभी चीजें बीमारी से ग्रसित होने से पहले से ही अपने भोजन मे शामिल करते हैं, तो आप बीमारी से बच सकतें हैं, और अगर आप थायरॉइड या अन्य बीमारी में भी इसका सेवन करते हैं तो यह आपके लिए बहुत ज्यादाअच्छा साबित हो सकता है। दोस्तों हमारे शरीर में होने वाली क्रियाओं के लिए हमें सभी प्रकार के पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है, किन्तु सही मात्रा में। हमारे शरीर में किसी भी तत्व की अधिकता हमें बीमार कर सकती है, इसलिए आपका आहार संतुलित होना चाहिए।

थायरॉइड में कौन-कौन सी चीजें ना खाएं –

ऐसी चीजों का सेवन ना करें जिनमें तेल की अधिकता हो, डालडे का सेवन ना करें, ज्यादा मीठे का सेवन ना करें , केक एवं Chocolates का सेवन ना करें क्योंकि यह सारी चीजें हमारी शरीर में मोटापा और Fat बढ़ाने काकाम करती हैं। Hypothyroidism में metabolism (चयापचय) की क्रिया धीमी हो जाती है,जिसकी वजह से वजन बढ़ने लगता है , इसलिए Fat बढ़ाने वाली चीजों से दूर रहें। ऊपर दिये हुए कुछ खाद्य पदार्थ हमारी इस बीमारी के लिए बहुत ही लाभदायक होते हैं। आप इनको आसानी से खाने में शामिल कर सकते हैं।

अन्य पढ़े –

सुबह की सैर और हमारी सेहत

सोच और चिंता से ऊपजा मानसिक तनाव

थायराइड क्या है, इसके प्रकार और प्रबंधन

 

2 thoughts on “थायरॉइड का संतुलन- कुछ आहार के साथ उपचार |Thyroid ka santulan – kuch aahar ke sath upchaar”

Leave a Comment

Important Links

Join Our Whatsapp Group Join Whatsapp